तेरे हर एक दर्द का एहसास है मुझे तेरी मेरी दोस्ती पर बहुत नाज़ है मुझे, क़यामत तक न बिछड़ेंगे हम दो दोस्त, कल से भी ज्यादा भरोसा आज है मुझे।  - dosti shayari

तेरे हर एक दर्द का एहसास है मुझे तेरी मेरी दोस्ती पर बहुत नाज़ है मुझे, क़यामत तक न बिछड़ेंगे हम दो दोस्त, कल से भी ज्यादा भरोसा आज है मुझे।

dosti shayari