पढ़ी जो पट्टी प्रेम की सुर्ख हो गया रंग, तन हो तो मेरा संग रहा मन हुआ तेरे संग। - Radhe Krishna download

पढ़ी जो पट्टी प्रेम की सुर्ख हो गया रंग, तन हो तो मेरा संग रहा मन हुआ तेरे संग।

आधा चांद आधा इश्क आधी सी बंदगी मेने हो और मेरे ही नहीं ये कैसी जिंदगी। - Radhe Krishna download

आधा चांद आधा इश्क आधी सी बंदगी मेने हो और मेरे ही नहीं ये कैसी जिंदगी।

किसी को पाना या खोना इश्क नहीं है किसी का होकर रह जाना इश्क है। - Radhe Krishna download

किसी को पाना या खोना इश्क नहीं है किसी का होकर रह जाना इश्क है।

प्रेम में कोई वियोग नहीं होता प्रेम ही अंतिम योग है प्रेम ही अंतिम मिलन है। - Radhe Krishna download

प्रेम में कोई वियोग नहीं होता प्रेम ही अंतिम योग है प्रेम ही अंतिम मिलन है।

प्रेम और आस्था दोनों पर किसी का जोर नहीं ये मन जहां लग जाए वही रब नजर आता है।  - Radhe Krishna download

प्रेम और आस्था दोनों पर किसी का जोर नहीं ये मन जहां लग जाए वही रब नजर आता है।

कौन कहता है हमने तुम्हें दिल से निकाला है यही तो एक रोग है हमने जिसे बड़े शौक से पाला है। - Radhe Krishna download

कौन कहता है हमने तुम्हें दिल से निकाला है यही तो एक रोग है हमने जिसे बड़े शौक से पाला है।

रूह से जुड़े रिश्तो पर फरिश्तों के पहरे होते हैं कोशिश करलो तोड़ने की ये और भी गहरे होते हैं। - Radhe Krishna download

रूह से जुड़े रिश्तो पर फरिश्तों के पहरे होते हैं कोशिश करलो तोड़ने की ये और भी गहरे होते हैं।

गजब की मोहब्बत है वो जिसमें साथ रहने की उम्मीद बिल्कुल ना हो फिर भी प्यार बेशुमार हो। - Radhe Krishna download

गजब की मोहब्बत है वो जिसमें साथ रहने की उम्मीद बिल्कुल ना हो फिर भी प्यार बेशुमार हो।

उम्र का कोई लेना देना नहीं होता जहां विचार मिलते हैं वही सच्चा प्रेम होता है। - Radhe Krishna download

उम्र का कोई लेना देना नहीं होता जहां विचार मिलते हैं वही सच्चा प्रेम होता है।

प्रीत ना कीजिये पंछी जैसी पेड़ सुखे तो उड़ जाये प्रीति कीजिये मछली जैसी जल सूखे तो मर जाए। - Radhe Krishna download

प्रीत ना कीजिये पंछी जैसी पेड़ सुखे तो उड़ जाये प्रीति कीजिये मछली जैसी जल सूखे तो मर जाए।

प्रतिक्षा करना शुध्द प्रेम की निशानी है हर कोई प्रेम कर सकता है लेकिन हर कोई उस प्रेम की प्रतिक्षा नहीं कर सकता।   - Radhe Krishna download

प्रतिक्षा करना शुध्द प्रेम की निशानी है हर कोई प्रेम कर सकता है लेकिन हर कोई उस प्रेम की प्रतिक्षा नहीं कर सकता।

प्रेम आत्मा से होता है शरीर से नहीं जो शरीर से और वह केवल आकर्षण हैं जो आत्मा से होता है वहीं शाश्र्वत प्रेम है। - Radhe Krishna download

प्रेम आत्मा से होता है शरीर से नहीं जो शरीर से और वह केवल आकर्षण हैं जो आत्मा से होता है वहीं शाश्र्वत प्रेम है।

आईना आज फिर रिश्वत लेता पकड़ा गया दिल में दर्द था और चेहरे पर हंसता हुआ पकड़ा गया। - Radhe Krishna download

आईना आज फिर रिश्वत लेता पकड़ा गया दिल में दर्द था और चेहरे पर हंसता हुआ पकड़ा गया।

जिस पर राधा को मान है जिस पर राधा को गुमान है यह वही है कृष्ण जो राधा के दिल में हर जगह विराजमान है। - Radhe Krishna download

जिस पर राधा को मान है जिस पर राधा को गुमान है यह वही है कृष्ण जो राधा के दिल में हर जगह विराजमान है।

किसी भी मूर्ख व्यक्ति से बहस मत करो वरना लोग समझ ही नहीं पाएंगे कि असल में मूर्ख कौन है। - Radhe Krishna download

किसी भी मूर्ख व्यक्ति से बहस मत करो वरना लोग समझ ही नहीं पाएंगे कि असल में मूर्ख कौन है।

कुछ रिश्तो के नाम नहीं होते पर सबसे बढ़कर होते हैं। - Radhe Krishna download

कुछ रिश्तो के नाम नहीं होते पर सबसे बढ़कर होते हैं।

किसी व्यक्ति के आपके पास आने के तीन कारण होते हैं पहला अभाव दूसरा प्रभाव तीसरा भाव। - Radhe Krishna download

किसी व्यक्ति के आपके पास आने के तीन कारण होते हैं पहला अभाव दूसरा प्रभाव तीसरा भाव।

चढ़ा जब मैं श्याम रंग सांवली कहे सब मोहे ले चल मोहे अपने सग यहां पग-पग माया सोए। - Radhe Krishna download

चढ़ा जब मैं श्याम रंग सांवली कहे सब मोहे ले चल मोहे अपने सग यहां पग-पग माया सोए।

वो इश्क कैसा जिसमे अपने होने का बार-बार सबूत देना पड़े। - Radhe Krishna download

वो इश्क कैसा जिसमे अपने होने का बार-बार सबूत देना पड़े।

जिस व्यक्ति को अपनी क़द्र नहीं उसके साथ खड़े रहने से अच्छा है आप अकेले रहे। - Radhe Krishna download

जिस व्यक्ति को अपनी क़द्र नहीं उसके साथ खड़े रहने से अच्छा है आप अकेले रहे।