क्यूँ 😟मुश्किलों में साथ देते हैं 👬दोस्त, क्यूँ सारे ग़मों को बाँट लेते हैं 👬 दोस्त, न रिश्ता 🔴खून का न रिवाज से बंधा है, फिर भी ज़िन्दगी भर साथ देते हैं 👬दोस्त। - dosti shayari

क्यूँ 😟मुश्किलों में साथ देते हैं 👬दोस्त, क्यूँ सारे ग़मों को बाँट लेते हैं 👬 दोस्त, न रिश्ता 🔴खून का न रिवाज से बंधा है, फिर भी ज़िन्दगी भर साथ देते हैं 👬दोस्त।

dosti shayari