shikhar dhawan biography

Shikhar Dhawan Biography in Hindi

शिखर धवन की जीवनी (Shikhar Dhawan Biography (Jivani) In Hindi) : भारतीय टीम को क्रिकेट जगत की सबसे मजबूत टीम माना जाता है, तो वही भारतीय टीम को इस स्थान पर पहुंचाने में कई सारे खिलाड़ियों का काफी योगदान है। इन में से एक खिलाड़ी आक्रामक सलामी बल्लेबाज शिखर धवन (Shikhar Dhawan) भी है। शिखर धवन ने तब भारतीय टीम को संभाला जब विस्फोटक सलामी बल्लेबाज वीरेन्द्र सहवाग और दिग्गज बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर क्रिकेट से संन्यास ले चुके थे। उस समय भारतीय टीम के पास वीरेन्द्र सहवाग और सचिन तेंदुलकर की पूर्ति कर दे ऐसा कोई भी बल्लेबाज मौजूद नहीं था, लेकिन तब शिखर धवन ने आकर इन दोनों दिग्गज बल्लेबाजों की पूर्ति पूरी कर दी। शिखर धवन को उनकी आक्रामक बल्लेबाजी की वजह से गब्बर के नाम से भी जाना जाता है।

शिखर धवन की जीवनी (Shikhar Dhawan Biography in Hindi)

नामशिखर धवन (गब्बर)
व्यवसाय भारतीय क्रिकेटर (बाएं हाथ के सलामी बल्लेबाज)
जन्मतिथि5 दिसंबर 1985
पत्नी आयेशा धवन
आईपीएल टीम दिल्ली कैपिटल्स
कुल आय80 करोड़ (लगभग)

5 दिसंबर 1985 को नवी दिल्ली में एक पंजाबी परिवार में शिखर धवन (Shikhar Dhawan) का जन्म हुआ था। शिखर धवन के पिता का नाम महेंद्र पाल धवन और माता का नाम सुनैना धवन है । शिखर धवन की बड़ी बहन का नाम श्रेष्ठा धवन है। शिखर धवन ने अपनी शुरूआती पढाई सेंट मार्क सीनियर सेकेंडरी पब्लिक स्कूल, दिल्ली से पूर्ण की।

shikhar dhawan quotes
Shikhar Dhawan Quotes

शिखर धवन को बचपन से क्रिकेट खेलने का शोक था। जिसका कारण उनका एक चचेरा भाई था। जो पहले किसी कल्ब की तरफ से क्रिकेट खेला करता था। और उसकी वजह से शिखर धवन के अंदर क्रिकेट खेलने का जूनून सवार हो गया। शिखर धवन और उनके चचेरा भाई पहले गली में क्रिकेट खेला करते थे। लेकिन शिखर धवन की मेहनत धीरे धीरे रंग लाने लगी। और उनके क्रिकेट के टैलेंट को देखते हुए उनके घर वाले ने उन्हें 12 वर्ष की उम्र में सॉनेट क्रिकेट क्लब में उनका एडमिशन करवा दिया।

ये भी पढ़े :-  Mithali Raj Biography in Hindi | Mithali Raj Success Story and Career

घरेलू क्रिकेट करियर (Domestic cricket career)

सॉनेट क्रिकेट क्लब में कोच तारक सिन्हा के अंदर खेलते हुए शिखर धवन (Shikhar Dhawan) ने अपनी क्रिकेट की प्रतिभा को और निखारा। क्लब के शुरुआत दिनों में शिखर धवन एक विकेटकीपर के तौर पर खेलते थे। लेकिन कोच तारक सिन्हा की सलाह पर शिखर धवन अपना पूरा ध्यान अपनी बल्लेबाजी पर देने लगे। और जैसे जैसे समय गुजरता गया उनकी बल्लेबाजी और बेहतर होती चली गई।

जिसके फल सवरूप उन्हें 1999 की विजय मर्चेंट ट्रॉफी में दिल्ली अंडर -16 में जगह मिल गई। उस समय शिखर धवन की उम्र लगभग 14 साल थी। विजय मर्चेंट ट्रॉफी में शिखर धवन ने मात्र 9 पारियों में 83.88 की औसत से 755 रन बनाए थे। शिखर धवन ने इस टूनामेंट के दौरान 2 शतक लगाए थे। और 199 रन की पारी खेली थी।

shikhar dhawan quotes in hindi
Dhawan in Hindi

शिखर धवन के इसी प्रदर्शन को देखते हुए, फरवरी 2001 में हुई विजय हजारे ट्रॉफी अंडर -16 की टीम के लिए भी चुना गया था। शिखर धवन ने इस में भी लाजवाब प्रदर्शन किया था। और अक्टूबर 2001 में हुई कूच बिहार ट्रॉफी के लिए दिल्ली अंडर-19 टीम में उन्होंने शामिल किया गया। उस समय शिखर धवन की उम्र मात्र 15 साल थी।

ये भी पढ़े :-  संदीप माहेश्वरी की सक्सेस स्टोरी और संदीप माहेश्वरी के मोटिवेशनल कोट्स

जिसके बाद उन्हों एक बार फिर अक्टूबर 2002 में हुई कूच बिहार ट्रॉफी के लिए दिल्ली अंडर -19 टीम में शामिल किया। जिसमे शिखर धवन ने 8 पारियों में 55.42 की औसत से 388 रन जड़े थे। जिसके चलते नवंबर 2004 में ही उन्हें पहली बार रणजी ट्रॉफी में उतरने का मौका मिला। शिखर धवन अपना रणजी ट्रॉफी डब्यू मैच आंध्र के खिलाफ खेला है। इस मैच में शिखर धवन ने 49 रन की तूफानी पारी खेली थी। और उनको साल 2005 में ही जम्मू-कश्मीर के खिलाफ लिस्ट ए क्रिकेट टीम में जगह मिली।

और फरवरी 2005 में, चैलेंजर ट्रॉफी के लिए के सीनियर टीम में चुना गया। जिसमे धवन ने भारत बी के विरुद्ध एमएस धोनी के साथ पारी की शुरुआत की। और साल 2006 में शिखर धवन को यूरेशिया क्रिकेट सीरीज़ के लिए भारत-ए के लिए कप्तान चुना गया।

फिर शिखर धवन ने 2008 में खेले गए रणजी वनडे ट्रॉफी में दूसरे नंबर के सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज रहे। उनके इसी प्रदर्शन की वजह से शिखर धवन को दिल्ली डेयरडेविल्‍स (दिल्ली कैपिटल्स) ने लगभग 2 करोड़ में आईपीएल 2008 के लिए ख़रीदा। आईपीएल 2008 में दिल्ली डेयरडेविल्‍स की तरफ से 14 मैचों में 37.77 की औसत से 340 रन बनाये, और 4 अर्धशतक लगाए थे। और साल 2009 में चैलेंजर ट्रॉफी में इंडिया रेड के लिए शानदार प्रदर्शन किया फिर 2010 में हुए विजय हजारे ट्रॉफी में दिल्ली के लिए सिर्फ 5 मैच खेलते हुए दिल्ली की तरफ से सबसे ज्यादा रन बनाये थे।

ये भी पढ़े :-  Ratan Tata Biography and Success Story in hindi

अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट करियर (International cricket career)

shikhar dhawan status
Shikhar Dhawan Status

शिखर धवन के घरेलू क्रिकेट में किये गए अच्छे प्रदर्शन की वजह से उन्हें साल 2010 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीन मैचों की वनडे सीरीज के लिए मौका मिला। लेकिन शिखर धवन अपने करियर के पहले वनडे मैच में 2 गेंद खेल कर शून्य पर आउट हो गए। धवन के इसी ख़राब प्रदर्शन और वर्ल्ड कप 2011 को देखते हुए। उन्हें वर्ल्ड कप के बाद मौका मिला।

और वेस्टइंडीज के खिलाफ 5 मैचों की वनडे सीरीज के लिए उनको मौका मिला। लेकिन शिखर धवन सीरीज के पहले मैच में 76 गेंद पर सिर्फ 51 रन बना पाए |और बाकि तीन मैचों में शिखर धवन सिर्फ 18 रन बनाये और सीरीज के अंतिम मैच में उनको टीम से बाहर रखा गया। 2011 में ही शिखर धवन ने टी-20 क्रिकेट में डेब्यू किया था। लेकिन पहले मैच में सिर्फ 5 रन ही बनाये पाए थे। और फिर से उनके खराब प्रदर्शन की वजह से वनडे और टी-20 दोनों टीमों से ड्राप कर दिया गया।

5 मैचों में फ्लॉप होने के बाद शिखर धवन ने हार नहीं मानी। और 2011 में ईरानी कप के फाइनल में राजस्थान के खिलाफ पहली पारी में 165 गेंदों में 177 और दूसरी पारी में 126 गेंदों पर 155 रन की शानदार पारी खेली। और 2012 में भारत-ए टीम में वेस्टइंडीज दौरे के लिए टीम में जगह बना ली। साथ ही 2012 में चैलेंजर ट्रॉफी में भारत ए की तरफ से बंगाल के खिलाफ 194 रनों का पीछा करते हुए, 99 रनों की नाबाद मैच विनर पारी खेली।

शिखर धवन के इस अच्छे प्रदर्शन के कारण उनको 2013 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू करने का मौका मिला। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहली पारी में 174 गेंद पर 187 रन की विस्फोटक पारी खेली। और फिर शिखर धवन (Shikhar Dhawan)को भारतीय टीम की तरफ से वनडे क्रिकेट के लिए सीधे आईसीसी चैंपियन्स ट्रॉफ़ी 2013 में मौका दिया गया। और पहले मैच में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 114 रन की पारी और दूसरे मैच में वेस्टइंडीज के खिलाफ 102 रन की नाबाद पारी खेल भारतीय टीम में अपनी पहचान बनाई। भारत को आईसीसी चैंपियन्स ट्रॉफ़ी 2013 का ख़िताब जिताया। साथ ही प्लेयर ऑफ द सीरीज चुने गए।

ये भी पढ़े :-  Nick Vujicic Biography, Motivational Quotes and Success Story in hindi

अंतर्राष्ट्रीय वनडे करियर (International One-Day career)

latest shikhar dhawan best quotes
Latest Shikhar Dhawan Status

शिखर धवन ने अब तक वनडे क्रिकेट में सिर्फ 136 मैचों में 45.14 की औसत और 94.02 के स्ट्राइक रेट से 5688 रन बनाये है। शिखर धवन के नाम वनडे क्रिकेट में 17 शतक और 29 अर्धशतक है। शिखर धवन ने वनडे में 143 रन की शानदार पारी भी खेली है।

वनडे रिकॉर्ड (One-Day Record)
  • शिखर धवन 2013 में वनडे क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज थे। शिखर धवन ने 2013 में 26 मैचों की 25 पारियों में 1162 रन बनाये थे।
  • वनडे क्रिकेट में शिखर धवन सबसे तेज 2000 रन बनाने वाले भारतीय बल्लेबाज भी है। शिखर धवन ने 2014 में श्रीलंका के खिलाफ अपने 2000 रन पुरे किये थे। धवन ने 2000 रन बनाने के लिए 48 पारी खेली थी।
  • शिखर धवन वनडे में सबसे तेज 1000 रन बनाने वाले दूसरे भारतीय बल्लेबाज भी है। शिखर धवन ने 2010 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपने 1000 रन पुरे किये थे। धवन ने 1000 रन बनाने के लिए 24 पारी खेली थी।

अंतर्राष्ट्रीय टी-20 करियर (International T-20 career)

गब्बर शिखर धवन (Shikhar Dhawan) ने भारतीय टीम की तरफ से 60 टी-20 मैच खेले है और उसमे उन्होंने 128.27 के स्ट्राइक रेट से 1588 रन बनाये है। शिखर धवन के नाम टी-20 क्रिकेट में 10 अर्धशतक है। लेकिन धवन अब तक एक भी शतक नहीं जड़ पाए है। धवन ने टी-20 में 92 रन की शानदार पारी भी खेली है।

टी-20 रिकॉर्ड (T-20 Record)
latest shikhar dhawan image
dhawan image
  • शिखर धवन ने रोहित शर्मा के साथ साझेदारी करते हुए टी-20 क्रिकेट में सबसे ज्यादा 1743 रन जोड़े। साथ ही शिखर धवन और रोहित शर्मा ने 4 बार शतकीय साझेदारी भी की है।
  • शिखर धवन भारत की तरफ से टी-20 क्रिकेट में एक साल में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज भी है। शिखर धवन ने साल 2018 में 17 पारियों में 147.22 के स्ट्राइक रेट से 689 रन बनाये थे।

अंतर्राष्ट्रीय टेस्ट करियर (International Test career)

टेस्ट क्रिकेट में शिखर धवन ने ज्यादा मैच नहीं खेले है। लेकिन शिखर धवन ने अब तक 30 टेस्ट मैच में 40.61 की औसत से 2315 रन बनाये है। शिखर धवन ने टेस्ट में 7 शतक और 5 अर्धशतक भी लगाए है।

ये भी पढ़े :-  Jack Ma Biography | Jack Ma Success Story | Alibaba.com Success Story

आईपीएल (इंडियन प्रीमियर लीग) करियर (IPL (Indian Premier League) career)

शिखर धवन (Shikhar Dhawan) आईपीएल के सबसे सफल भारतीय सलामी बल्लेबाज है। शिखर धवन ने आईपीएल में 176 मैचों में 126.86 के स्ट्राइक रेट से 5196 रन बनाये है। शिखर धवन के नाम आईपीएल में 2 शतक और 41अर्धशतक है। धवन ने आईपीएल में 106 रन की तूफानी पारी भी खेली है।

आईपीएल रिकॉर्ड (IPL Record)
  • शिखर धवन ने अब तक आईपीएल में 591 चौके जड़े है। जो आईपीएल में सबसे ज्यादा चौके लगाने का रिकॉर्ड है।
  • आईपीएल 2020 में शिखर धवन लगातार दो शतक लगाकर आईपीएल में बैक टू बैक सबसे ज्यादा शतक लगाने का रिकॉर्ड बनाया है।
  • शिखर धवन आईपीएल में सबसे ज्यादा अर्धशतक लगाने वाले भारतीय बल्लेबाज है। धवन ने आईपीएल में कुल 41 अर्धशतक लगाए है।